Namaz Ki Rakat – 5 वक़्त की सभी नमाज़ की रकात जानिए

आप इस पैग़ाम में सबसे ज़रूरी व अहमियत भरी बात नमाज़ की रकात जानेंगे हम सभी पर हमारा रब का कितना बड़ा करम व एहसान है कि इतनी अफ़ज़ल नेअमत नमाज़ से हम सभी को नवाजा जिससे पढ़ कर हम सभी इस जिन्दगी में सुकून हासिल कर रहे हैं।

हम सब को मालूम होना चाहिए कि हर नमाज़ में अलग अलग रकात की संख्या होती है इन्ही रकातों को हम आज अच्छे से यहां पर जानेंगे की इस वक्त इस नमाज़ को कितनी रकात अदा करनी है बस आप इस पैग़ाम को आख़िर तक ध्यान से पढ़ें इस से पढ़ने के बाद आप ज़रूर जान जाएंगे।

Table Of Contents Show

Namaz Ki Rakat

सबसे पहले आपको बताते चले शायद आप जानते भी होंगे कि 1 एक रकात यानी हम जब नमाज पढ़ने के लिए खड़े हो कर या बैठे कर ही सूरह फातिहा पुरा पढ़ने के बाद कोई सूरह पढ़ कर रूकुअ और सज्दा करते हैं तो हमारी नमाज़ की एक रकात मुकम्मल होती है।

यहाँ क्लिक करके फातिहा का सही तरीका जानें

इसी तरह जब दो रकात करते हैं तो दो रकात नमाज़ मुकम्मल होती है कभी कभी अक्सर फर्ज नमाजों में तीसरी और चौथी रकात में सूरह फातिहा के बाद सूरह नहीं भी पढ़ी जाती है जबकि सब नमाज की हर रकात में सूरह फातिहा पढ़ी जाती है और तीन रकात, चार रकात नमाज मुकम्मल की जाती है।

आप एक दफा गौर से नीचे की जानिब सभी वक्तों यानी 5 वक्त की नमाज की रकात देख लें और इसी पर अमल करके पुरी नमाज मुकम्मल करें इसमें सभी तरह की नमाज़ों का रकात की मुकम्मल रकात लिखी गई है।

यहाँ पढ़ें :- नमाज़ पढ़ने का सही तरीका

Namaz नमाज़सुन्नतफर्ज़सुन्नतनफ्लवाज़िबनफ्ल
Fazar फज़र22XXXX
Johar जोहर 4422XX
Asar असर 44XXXX
Maghrib मगरिब X322XX
Isha ईशा442232
Namaz Ki Rakat

Namaz Ki Rakat Image

Namaz Ki Rakat
Namaz Ki Rakat

फ़जर कि नमाज की रकात कितनी होती है?

  • फ़जर कि नमाज में 4 चार रकात होती है।
  • 2 रकात सुन्नत
  • 2 रकात फर्ज

Know More: Fajar Ki Namaz Ki Rakat

ज़ोहर कि नमाज की रकात कितनी होती है?

  • ज़ोहर कि नमाज़ में कुल 12 बारह रकात होती है।
  • 4 रकात सुन्नत
  • 4 रकात फर्ज
  • 2 रकात सुन्नत
  • 2 रकात नफ्ल

ज्यादा जानें: जोहर की नमाज की रकात

असर कि नमाज की रकात कितनी होती है?

  • असर कि नमाज़ में कुल 8 आठ रकात होती है।
  • 4 रकात सुन्नत
  • 4 रकात फर्ज

Know More: Asar Ki Namaz Ki Rakat

मगरिब कि नमाज की रकात कितनी होती है?

  • मगरीब कि नमाज़ में कुल 7 सात रकात होती है।
  • 3 रकात फर्ज
  • 2 रकात सुन्नत
  • 2 रकात नफ्ल

अधिक जानें: मगरिब कि नमाज की रकात

इशा कि नमाज की रकात कितनी होती है?

  • इशा कि नमाज़ में कुल 17 सत्रह रकात होती है।
  • 4 रकात सुन्नत
  • 4 रकात फर्ज
  • 2 रकात सुन्नत
  • 2 रकात नफ्ल
  • 3 रकात वित्र वाजिब
  • 2 रकात नफ्ल

Read More: Isha Ki Namaz Ki Rakat

नमाज कि रकात की किस्म

हर वक्त की नमाज़ में आप सुनते होंगे कि या फिर हमने उपर में भी आपको बताया कि इस वक्त की नमाज़ में इतनी रकात सुन्नत इतनी रकात फर्ज इतनी रकात वाजिब या फिर इतनी रकात नफ्ल पढ़ा जाता है ये नमाज़ की किस्में हैं।

  • फर्ज:- इसका करना निहायत यानी अत्यंत आवश्यक है, बिना शरई इसको छोड़ने वाला फासिक गुनाहे कबिरा का मुरतकीब होगा।
  • वाजिब:- इसका करना भी निहायत जरुरी है किसी वाजिब को जान बूझ कर छोड़ना गुनाहे सगीरा है और चन्द बार तर्क करना गुनाहे कबिरा है।
  • नफ्ल:- इसको करने से सवाब तो बहुत होगा लेकीन न करने से कोई हर्ज नहीं फिर भी ज्यादा से ज्यादा नफ्ल अपने नामाए अम्ल करें।
  • सुन्नते मुअक्कदा:- जिसका करना भी ज़रूरी है इसको कभी अकास्मिक तौर पर छोड़ना सही नहीं हमेशा छोड़ने वाला जहन्नम का अजाब का हकदार होगा।
  • सुन्नते गैर मुअक्कदा:- जिसका करना अच्छा है और करने वाला सवाब पाएगा इसे करना सही है लेकीन इसके न करने पर कोई इताब या अजाब नहीं।

FAQ

  1. सुबह की नमाज़ में कितनी रकात होती है?

    सुबह यानी फजर की नमाज़ में 4 चार रकात होती है।

  2. फजर में कितनी रकात नमाज़ पढ़ी जाती है?

    फजर में 2 रकात सुन्नत और 2 रकात फर्ज यानी 4 रकात पढ़ी जाती है।

  3. जोहर की नमाज़ कितनी रकात की होती है?

    जोहर की नमाज़ में कुल 12 रकात नमाज़ पढ़ी जाती है।

  4. जोहर की नमाज़ कब पढ़ी जाती है?

    जोहर की नमाज़ आधे दिन में यानी 1 बजे के लगभग पढ़ी जाती है।

  5. असर की नमाज़ का टाइम क्या है?

    असर की नमाज़ सूरज डूबने से पहले पढ़ी जाती है।

  6. असर की नमाज़ में कितनी रकात होती है?

    असर की नमाज़ में कुल 8 रकात नमाज़ पढ़ी जाती है।

  7. मगरीब की नमाज़ कितने रकात होती है?

    मगरीब कि नमाज़ में 3 रकात फर्ज, 2 रकात सुन्नत, और 2 रकात नफ्ल यानी कुल 7 रकात होती है।

  8. इशा की नमाज़ कितनी रकात होती है?

    इशा की नमाज़ में कुल मिलाकर 17 रकात नमाज़ पढ़ी जाती है।

  9. इशा की नमाज़ में कितनी रकात फर्ज होती है?

    इशा की नमाज़ में सिर्फ 4 रकात ही फर्ज पढ़ी जाती है।

  10. इशा में कितनी रकात सुन्नत पढ़ी जाती है?

    इशा में शुरु 4 रकात सुन्नत फिर फर्ज के बाद 2 रकात सुन्नत यानी कुल 6 रकात सुन्नत पढ़ी जाती है।

  11. इशा कि नमाज़ का टाइम कब होता है?

    इशा कि नमाज़ का टाइम मगरीब की नमाज़ के बाद होती है सामान्य तौर पर ठंडे में 7:30 PM और गर्मी में 8:30 PM होता है।

आख़िरी बात

आप ने इस पैग़ाम के ज़रिए सभी वक्त की नमाज़ की रकात को जाना यहां पर हमने संख्या और शब्दों में भी लिखा है जिसे पढ़ने पर यकीनन सभी वक्त की नमाज़ की रकात को जान गए होंगे हमने यहां पर बहुत ही आसान तरीके से सभी नमाज़ की रकात को लिखा है।

जिससे पढ़ने के बाद आप अच्छे से समझ जाएं मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है कि हमारे मोमिन भाई बहन और सभी अहबाब अपने रब के फ़रमान के मुताबिक जिन्दगी गुजारें और हम सभी के लिए अपने रब का सबसे बेशकिमती तोहफ़ा नमाज़ है इसीलिए हम सब को नमाज़ अदा करना चाहिए।

अगर यह पैगाम आपको अच्छा लगा हो तो और आप इस से कुछ सीखें हो तो दुसरे को भी बताएं जिसे सभी मोमिन सही से हर वक्त की नमाज़ अदा कर सकें और इसे उन तक पहुंचाएं साथ ही अपने नेक दुआ में हमें भी याद रखें पूरा पैगाम पढ़ने के लिए आपका शुक्रिया।

My name is Muhammad Ittequaf and I'm the Editor and Writer of Zoseme. I'm a Sunni Muslim From Ranchi, India. I've experience teaching and writing about Islam Since 2019. I'm writing and publishing Islamic content to please Allah SWT and seek His blessings.

Share This Post On

2 thoughts on “Namaz Ki Rakat – 5 वक़्त की सभी नमाज़ की रकात जानिए”

Leave a Comment