Namaz Me Padhne Wali Dua – नमाज में पढ़ी जाने वाली दुआ

आज के इस खुबसूरत पैगाम में आप एक बहुत ही जरूरी दुआ का जमा यानी कि नमाज में पढ़ी जाने वाली सभी दुआएं को जानेंगे हमने यहां पर नमाज़ की तमाम दुआएं बहुत ही साफ़ और आसान लफ्ज़ों में बताया है।

जिसे आप आसानी से पढ़ और समझ कर अपने जेहन में भी बसा लेंगे और इसके बाद हमेशा नमाज में इन दुआओं को सही से पढ़ कर नमाज़ मुकम्मल कर पाएंगे इसीलिए आप यहां पर ध्यान से पुरा पैग़ाम पढ़ें।

Namaz Me Padhne Wali Dua

आप भी शायद इस बात से वाकिफ ही होंगे कि नमाज में कई तरह के फजीलत और बरकत भरी जरूरी छोटी बड़ी दुआएं पढ़ी जाती है।

यहां पर ध्यान से पढ़ कर अपने जेहन में बसा लें क्योंकि सभी दुआएं बहुत ही आवश्यक है इसे नमाज में पढ़ कर ही नमाज़ मुकम्मल की जा सकती है।

Sabhi Namaz Me Padhne Wali Dua
Namaz Me Padhne Wali Dua

1. नमाज की सना दुआ

सुब्हान क अल्लाहुम्मा व बिह्मदि क व तबारकसमू क व तआला जद्दूक व ला इल्लाहा गैरूक

2. नमाज की अत्तहियात दुआ

अत्तहियातु लिल्लाहि वस्सला वातु वत्तय्यिबातु अस्सलामु अलैक अय्युहन्नबियु व रहमतुल्लाही व बरकातुहू अस्सलामु अलैना व अला इबादिल्लाहिस् सालिहीन अश्हदु अल्ला इल्लाह इल्लल्लाहु व अश्हदु अन्न-मुहम्मदन अब्दुहू व रसुलुहू

3. नमाज की दुरूदे इब्राहिम

अल्लाहुम्मा सल्लि अला सय्यिदिना मुहम्मदिंव व अला आलि सय्यिदिना मुहम्मदिन कमा सल्लैता अला सय्यिदिना इब्राहीमा व अला आलि सय्यिदिना इब्राहिमा इन्नका हमीदुम मजीद. अल्लाहुम्मा बारिक अला सय्यिदिना मुहम्मदिंव व अला आलि सय्यिदिना मुहम्मदिन कमा बारकता अला सय्यिदिना इब्राहिमा व अला आलि सय्यिदिना इब्राहिमा इन्नका हमीदुम मजीद.

4. नमाज की दुआ ए मासूरा

अल्लाहुम् म इन्नी जलम्तु नफ्सी जुल्मन कसीरंव वला यग्फिरूज् जुनूबा इल्ला अन्ता फग़फिरली मगफिरतम मिन इन दिका व रहमनी इन्नका अन्तल गफूरुर्रहिम

5. नमाज की दुसरी दुआ ए मासूरा

अल्लाहुम्मग फिरली वलि वालिदय्य वलिमन तवाल द वलि जमिइल मुमिनी न वल मूमिनाति वल मुस्लिमीन वल मुस्लिमाति अल अहयाई मिन्हुम वल अमवाति इन्न क मुजिबुद् दअवाति बि रहमतिका या अरहमर्राहिमीन

6. नमाज की दुआ ए कुनूत

अल्लाहुम्मा इन्ना नस्तइनु क व नस्तग्फिरूक व नुअमिनु बि क व न त वक्कलु अलैक व नुस्नी अलैकल खैर व नशकुरुक वला नक्फुरू क व नख लओ व नतरूकु मंय्यफ्जुरू क अल्लाहुम्म इय्या क नअबुदू व लका नुसल्ली व नस्जुदू व इलैक व नसआ व नहफिदु व नरजु रहमत क व नख्शा अजा इन्न अजा ब क बिल कुफ्फारि मुल्हिक

इस बात से तो आप भी बखूबी वाकिफ ही होंगे कि दुआ ए कुनूत सिर्फ वित्र की नमाज की तिसरी रकात में पढ़ी जाती है इसे सब नमाज में नहीं पढ़ना है।

यहां पर लिखी सभी दुआओं को नमाज के अन्दर ही पढ़ा जाता है अगर आप नमाज के बाद की दुआ पढ़ना चाहते हैं तो क्लिक करके पढ़ सकते हैं।

आख़िरी बात

आप ने इस पैग़ाम में नमाज में पढ़ी जाने वाली दुआ को पढ़ा और समझा हमने यहां पर सभी नमाज में पढ़ी जाने वाली दुआओं को साफ लफ्ज़ों में लिखा जिसे आप आसानी से पढ़ कर अमल में भी लाएं जिसे आपकी नमाज दुरूस्त तरीके से अदा और मुकम्मल हो सके।

अगर यह पैगाम आपको अच्छा लगा हो तो इससे सभी अपने अज़ीजो अकारीब और आशीके रसूल तक पहुंचाएं और सवाबे दारैन हासिल करें अगर यहां पर आप को सवाल या सुझाव देना पूछना या देना चाहे तो कॉमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ या बता सकते हैं मैं आपके क्वेरी का जवाब जल्द दूंगा।

My name is Muhammad Ittequaf and I'm the Editor and Writer of Zoseme. I'm a Sunni Muslim From Ranchi, India. I've experience teaching and writing about Islam Since 2019. I'm writing and publishing Islamic content to please Allah SWT and seek His blessings.

Share This Post On

Leave a Comment